Mysuru Palace

Language : Hindi | Palace | Audios

General Information

समय : 10 am से 5 pm.

टिकट :

  • वयस्क:  Rs. 50/-
  • बच्चे  : Rs. 30/-

वेश भूषा :

  • कुछ विशेष नहीं.
  • भारतीय अथवा पश्चिमी किसी भी प्रकार की पोषक पहनी जा सकती है

अनुमति :

  • बैग, संदर्भ पुस्तक
  • फ़ोन, पानी की बोतल

अनुमति नहीं :

खाने की सामग्री

Facilities

पार्किंग : पार्किंग के लिए पर्याप्त जगह है

शौचालय : महल में लोगो के इस्तेमाल करने के लिए शौचालय उपलब्ध हैं

समानघर : समानघर यहाँ उपलब्ध है

Food

दक्षिण भारतीय :

  • होटल विनायक मैलाड़ी: बजट रेस्तरां – दुकान नंबर 79, पुलिस स्टेशन के पास, नज़ारबाड़ मेन रोड, दोोरा, मैसूर, कर्नाटक -570010.

 

  • होटल दासप्रकाश: पारंपरिक खाद्य – गांधी स्क्वायर, विपक्ष प्रभा टॉकीज, मंडी मोहल्ला, मैसूर, कर्नाटक -570001.

 

उत्तर भारतीय :

  • पुरोहित रेस्तरां: बॉम्बे / मारवाडी थाली एमटीआर डीलक्स लॉज कॉम्प्लेक्स, संगम टॉकीज के पीछे, गणपति मंदिर रोड, लस्कर मोहल्ला, मैसूर, कर्नाटक -570001 फोन: 094829 51770.

 

  • बॉम्बे टिफ़नी: चैट और स्वीट शॉप देवारजा मार्केट बिल्डिंग, देवराज मोहल्ला, शिवरामपेट, मैसूर, कर्नाटक -7000101 फोन: 098457 28883.

Checklist

  • पीने का पानी
  • Earphones / headphones
  • बैकपैक को होटल में या गाड़ी में ही रखें . महल बहुत अच्छा है , यहाँ आप आसानी से एक से दो घंटे बिता सकते है.
  •  ज़ादा चीज़ो को उठाकर घूमने में आपको असुवुधा होगी

The Basics

पौराणिक जानकारी को तरोताज़ा करना सबके लिए अच्छा रहता है. कारण ये है के दक्षिण भारत के जादातर स्मारक देव , देवताओं और पौराणिक कहानियों पर आधारित हैं.

इन्हे जान कर आप कलाकार और कला की भली भांति से सराहना कर सकेंगे .

History

मैसूर राजमहल,  “ताज महल” के बाद भारत के सबसे प्रसिद्ध पर्यटक आकर्षणों में से एक है; और यहां 36 करोड़ से अधिक पर्यटक आते हैं।

इस महल को 1912 में कृष्णराज वोडेयर (चतुर्थ) द्वारा बनाया गया था। ब्रिटिश वास्तुकार लॉर्ड हेनरी इरविन महल बनाने का काम सौपा गया | महल उसी जमीन पर है जहां 18 वीं शताब्दी का  पुराना महल हुआ करता था | लेकिन उस पुराने महल का क्या हुआ ?  क्यों बना ये नया महल ?  जानने के लिए सुनिया ऑडिओ गाइड|